7 सितम्बर 2023 श्रीकृष्ण जन्माष्टमी – कन्हैया सा बच्चा हो इसके उपाय समझें

Share for who you care
Read this article in english

कन्हैया सा बच्चा हो –  श्रीकृष्ण जन्माष्टमी 2023 में करे ये उपाय 

भारत में जन्माष्टमी काफी धूमधाम से मनाई जाती है और भगवान श्री कृष्ण का मनमोहक रूप देखकर वैसे भी सभी मंत्रमुग्ध हो जाते हैं। ऐसे में अगर आप भी अपने आने वाली संतान को भगवान श्रीकृष्ण की तरह मनमोहक, बुद्धिमान और गुणवान बनाना चाहती हैं तो जन्माष्टमी के पर्व पर आपको कुछ उपाय करने है। 2023 में जन्माष्टमी कब है, इसकी पूजा का समय क्या रहेगा? ये सारी जानकारी आपके इस लेख के माध्यम से मिलेगी।

2023 में जन्माष्टमी 6 सितंबर को है या 7 सितंबर को

जन्माष्टमी की सही डेट और शुभ मुहूर्त को लेकर बहुत दुविधा बनी हुई है। इसमें जनाष्टमी 6 September को है या 7 September को इसमें अलग अलग मत है। तो चलिए हम इसको आसान शब्दों में समझते हैं। कृष्ण जन्माष्टमी भाद्रपद माह के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को मनाई जाती है।

पंचांग के अनुसार, 2023 में जन्माष्टमी लगातार 2 दिन पड़ेगी। इसका कारण है जन्माष्टमी रात के समय रोहिणी नक्षत्र और अष्टमी तिथि पड़ रही है।

अष्टमी 6 सितंबर को दिन में 3:37 PM से लेकर अगले दिन 7 सितंबर को शाम 4:14 PM तक रहेगी

रोहिणी नक्षत्र 6 सितंबर को सुबह 9:20 AM पर शुरू होगा और 7 सितंबर को सुबह 10:25 AM तक रहेगा

दोनों दिन मनाया जाएगा।जन्माष्टमी 6 सितंबर को है, वहीं दही हांडी उत्सव 7 सितंबर को होगा

निशिता पूजा का समय 7 सितंबर को रात के 11:57 PM से 12:42 AM

तो इसी समय आप जन्माष्टमी की पूजा करें, लड्डू गोपाल की जन्मोत्सव 12:42 AM तक मनाई जाएगी।

पारण का समय: अगले दिन सूर्य उदय के बाद जब अष्टमी तिथि और रोहिणी नक्षत्र पूरे हो जायेंगे और यह समय होगा 7 सितंबर को सुबह तड़के 4 :14 AM.

श्री कृष्णा सा बालक पाने के उपाय

ऐसे क्या उपाय करने है जिससे आपको पुत्र की प्राप्ति हो और आपका पुत्र बुद्धिमान और गुणवान भगवान श्रीकृष्ण की तरह ही हो। सबसे पहले आपको बता दें कि श्रीमद्भागवत पुराण के अनुसार भगवान श्रीकृष्ण का जन्म अष्टमी तिथि, रोहिणी नक्षत्र, वृषभ राशि और बुधवार के दिन हुआ था और इस बार की जन्माष्टमी भी बहुत खास है क्योंकि इस बार जन्माष्टमी बुधवार के दिन ही आ रही है।

अब समझते हैं की किस तरीके से आप भगवान श्रीकृष्ण को खुश कर सकती है क्योंकि अगर आप गर्भवती हैं तो आपके मन में ये इच्छा जरूर होगी कि आपका होने वाला शिशु पुत्र हो और पुत्र भी भगवान श्रीकृष्ण की तरह बुद्धिमान, तेजस्वी और मनमोहक हो।

मक्खन और मिश्री का भोग

सबसे पहला उपाय भगवान श्रीकृष्ण को आप मक्खन और मिश्री का भोग चढ़ाएं। मक्खन और मिश्री का भोग भगवान श्रीकृष्ण को बहुत ज्यादा पसंद है। जब भगवान श्रीकृष्ण बालरूप में थे, वो मखन बहुत ज्यादा खाते थे। इसलिए आप उन्हें यह भोग चढ़ाएं और उसके बाद प्रसाद के रूप में इसे गर्भवती महिला को दे दें। इससे गर्भवती महिला की जो भी इच्छा होती है वह जरूर पूरी होती है।

पीली चीजों का ही भोग

भगवान श्रीकृष्ण को आप भोग चढ़ा रही है तो पीली चीजों का ही भोग चढ़ाएं। जैसे कि पीला लड्डू आप चढ़ा सकती है या पीले ही आपको प्रसाद चढ़ाना है और वस्त्र अगर आप धारण करवा रही है तो पीले रंग के ही वस्त्र धारण करवाएं। इससे भी आपकी जो इच्छा हैं वो जरूर पूरी होगी।

दूध, केसर और चीनी

भगवान श्रीकृष्ण को आप दूध में केसर और चीनी मिलाकर इसका भोग लगाएं और उसके बाद गर्भवती महिला को प्रसाद के रूप में इसे पीला दें। इससे भी गर्भवती महिला की अगर पुत्र प्राप्ति की इच्छा है तो वह जरूर पूरी होती है।

भगवान श्रीकृष्ण को झूला झुलाए

इस बात का ध्यान रखेगा कि झूला आप भगवान श्रीकृष्ण को जरूर झुलाए। घर पर अगर झुला सकती है तो बहुत अच्छा है, नहीं तो आप मंदिर जाकर भी झुला सकती है। इससे भी आपकी मनोकामना पूरी होती है।

संतान गोपाल मंत्र

आपको गोपाल मंत्र का जाप आपको इस दौरान जरूर करना है और जब आप भगवान श्रीकृष्ण को झूला झुला रही हों उस समय आपको भगवान श्रीकृष्ण की स्तुति जरूर करनी है।स्नान करने के बाद, साफ़ वस्त्र पहने, लड्डू गोपाल को स्नान करवाए, नए वस्त्र धारण करवाए, श्रृंगार करें और उसके बाद संतान गोपाल मंत्र का जाप १ लाख बार करना है।

ऊं देवकी सुत गोविंद वासुदेव जगत्पते ।

देहि मे तनयं कृष्ण त्वामहं शरणं गत:।।

तो ये थे कुछ उपाय जो अगर आप जन्माष्टमी के पर्व के दिन करती है तो आपकी जो भी इच्छा है, चाहे वो पुत्र प्राप्ति की इच्छा हो, चाहे वो संतान प्राप्ति की इच्छा क्यों ना हो या फिर आप बुद्धिमान और तेजस्वी संतान चाहती है तो वह जरूर पूरी होती है

आशा है आपको यह लेख पसंद आया होगा। इस लेख को साझा करें और ऐसी ही प्रेगनेंसी टिप्स के लिए गर्भज्ञान को फ्री में सब्सक्राइब करें। जय श्री कृष्ण, राधे राधे।

Covered queries: when is janmashtami in 2023, 6 September janmashtami 2023, 7 september 2023 janmashtami , when is janmashtami pooja , 2023 krishna janmashtami correct date and time , janmashtami ki pooja ka sahi samay, janmashtami 7 september ko hai ya 6 september ko , janmashtami 2023 me kab hai, 2023 me janmashtami kis din manayi jayegi, krishna pooja ka samay kya hai janmashtami  2023 me, janmashtami me shri krishna jaise putra praapti kaise ho, baby boy like lord krishna tips during pregnancy, tips for baby boy in womb, shri krishna janmashtami 6 september ko hai ya 7 september ko

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *