प्रेगनेंसी में केसर गर्भवती महिला को कब से शुरू करना चाहिए

Share for who you care

यहाँ इस लेख को अंग्रेजी में पढ़िए

प्रेगनेंसी में केसर

प्रेगनेंसी में अगर आप केसर का सेवन कर रहे हैं तो गर्मियों में खासतौर पे केसर का सेवन करने से पहले आपको कुछ चीजें जरूर जान लेनी चाहिए। केसर का दूध किस टाइम पे आपको पीना चाहिए जो कि आपके लिए फायदेमंद होगा और गर्मियों में कितना केसर आपको खाना है। क्या-क्या फायदे आपको इसके मिलेंगे और कब ये आपके लिए नुकसानदायक हो सकता है।

केसर को golden spice के नाम से भी जाना जाता है। ये एक ऐसा मसाला है जो कि कीमती भी होता है और इसमें बहुत सारे गुण भी होते हैं। लेकिन pregnancy के दौरान केसर को मौसम के हिसाब से ही खाया जाता है।

अगर बहुत ज्यादा गर्मी का मौसम है तो केसर खाने से पहले आपको बहुत सारी बातें ध्यान में रखनी है। Pregnancy के दौरान आपकी बॉडी का temperature normally जो है वो एक डिग्री सेंटीग्रेड (1℃) बढ़ा हुआ ही रहता है। ऐसे में केसर जो कि गर्म तासीर का होता है अगर आप इसका सेवन अधिक मात्रा में कर लेंगी, तो ये आपकी बॉडी में अधिक गर्मी दे सकता है। जिस वजह से आपको संकुचन (contractions) हो सकते हैं। तो ये आपको pregnancy के शुरूआती दौर में गर्भपात (miscarriage) का खतरा और तीसरी तिमाही में pre-term लेबर का खतरा दे सकता है।

केसर कब से खाएं

प्रेगनेंसी के पहले 3 महीने तक केसर न खाएं। एक बार आपका चौथा महीने शुरू हो जाए तब आप केसर खाना शुरू कर सकते हैं। लेकिन कोई भी गर्म तासीर की चीज खाना शुरू करने से पहले एक बार आपको अपने डॉक्टर से जरूर पूछना चाहिए।

केसर का सेवन कितना करना चाहिए

केसर के जो रेशे (strands) होते हैं , एक रेशा ही इतना ज्यादा गुणकारी होता है कि इसके काफी सारे गुण आपको मिल जाते हैं। तो ऐसे में प्रेगनेंसी के दौरान बहुत अधिक रेशे अगर आप केसर के लेती हैं तो ये आपको कहीं ना कहीं गर्मी प्रदान कर सकता है। केसर के लिमिटेड रेशे ही आपको लेने होते हैं।

गर्मियों में: 1 -2 रेशे , लम्बाई : 1 इंच
सर्दियों में : 4 – 5 रेशे , लम्बाई : 1 इंच

कैसे बनाएं केसर वाला दूध 

1 गिलास दूध लें और इसे उबलने के लिए रख दें. उसी समय केसर के धागों को उबलते दूध में डाल दें। दूध और केसर को एक साथ 3 से 4 मिनट तक उबलने दें और फिर गैस बंद कर दें। दूध को गुनगुना या ठंडा होने दें। गर्भावस्था के दौरान गर्म दूध पीने से बचें। केसर वाला दूध तैयार है अब इसे सोने से पहले पियें।

सबसे पहले तो आपको बता दूं कि प्रेगनेंसी के पहले तीन महीने आपको केसर का सेवन बिल्कुल नहीं करना है। क्योंकि केसर गर्म प्रवृत्ति का होता है, ये आपको संकुचन दे सकता है। प्रेगनेंसी का चौथा महीना भी जब आपका जाए, उसके बाद जब आपका गर्भ अच्छे से ठहर जाए, आपका गर्भाशय मजबूत हो जाए, उसके बाद ही आपको इस दौरान केसर का सेवन करना है।

गर्मियों में केसर सिर्फ आपको 1 से ले के 2 रेशे ही लेने हैं, इससे ज्यादा आपको केसर का सेवन नहीं करना है।

केसर का दूध सबसे ज्यादा फायदेमंद आपको गर्भ अवस्था में करता है। आप इसे रात्रि के समय अगर लेती हैं, सोने से ठीक पहले तो ये आपको काफी ज्यादा फायदे देगा। एक तो ये आपको अच्छी नींद दिलाता है अलावा ये आपके बीपी को कंट्रोल करता है। आपका हार्ट बीट जो कि बड़ा ही रहता है pregnancy के दौरान इसको normalize करने का काम करता है। इसके अलावा आपको अगर ऐठन की समस्या है, आपको सूजन की समस्या है, आपको पेट में मरोड़ उठते हैं या फिर आप बहुत अधिक स्ट्रेस लेती है तो ये आपके लिए काफी ज्यादा फायदेमंद हो सकता है। अगर आपको मोर्निंग सिकनेस की, मितली की बहुत ज्यादा समस्या बन जाती है तो ऐसे में आपके लिए काफी ज्यादा फायदेमंद हो सकता है।

केसर का दूध आपको रात्रि के समय लेना है

अगर आपको बहुत ज्यादा सीने में जलन की प्रॉब्लम रहती है, आपका गला बार-बार जलता रहता है, तो आप सुबह उठकर भी केसर का दूध पी सकते हैं। आप क्या करिए कि रात को एक गिलास केसर वाला दूध फ्रिज में रख लीजिए और सुबह उठकर सबसे पहले ये दूध पीएंगे तो आपको इससे काफी ज्यादा फायदा मिलेगा। आपकी जो acidity, हार्ट बर्न होती है उससे आपको काफी ज्यादा राहत मिलती है।

इसके अलावा केसर आप सब्जी में, दाल में किसी भी रूप में ले सकते हैं।आपको ध्यान ये रखना है कि आपको अच्छी क्वालिटी का केसर use में लेना है। केसर कीमती होता है लेकिन ये कई बार जो है आपको आर्टिफिशियल या फिर नकली भी मिल सकता है। कलर किया केसर मिल सकता है तो केसर की अच्छे से जाँच पड़ताल करके ही आपको केसर लेना चाहिए।

अच्छी गुणवत्ता वाला केसर प्राप्त करने के लिए आप इसे देख सकते हैं :  इस गुलाबी लिंक पर क्लिक करें

केसर प्रेगनेंसी में खाने से शिशु गोरा होता है

ये भी कहा जाता है कि केसर का दूध पीने से आपके गर्भ में बच्चा जो है वो गोरा होता है, उसका रंग निखरने लग जाता है। हालाँकि इसकी कोई वैज्ञानिक पुष्टि नहीं हुई है। लेकिन ऐसा बड़े बुजुर्गों द्वारा सुना गया है। और ऐसा कहा जाता है, तो केसर आप जरूर लीजिए एंटी depression के लिए तो ये बहुत ही अच्छा काम करता है, आपको स्ट्रेस , तनाव अगर है इस दौरान तो ये आपके लिए काफी फायदेमंद है।

आशा करते हैं आपको यह लेख पसंद आया होगा, लेख को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। ब्लॉग को पढ़ने के लिए, समझने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद।

Queries covered in this article:

  1. Pregnancy me kesar kab se khana chahiye
  2. Pregnancy me kesar khaane ke fayde aur nuksaan
  3. Pregnancy me kesar ka sevan kab nahi karna chahiye
  4. Pregnancy me kesar waale doodh peene se kya hota hai
  5. pregnancy me garbh me shishu ka rang gora kaise ho
  6. Pregnancy me garmiyon me kesar khayein ya nahi
  7. Eating Saffron during pregnancy
  8. Saffron intake during summer in pregnancy, when to start saffron intake during pregnancy, which month to start eating saffron in pregnancy, does saffron makes baby fair in womb, how to make baby’s skin fair during pregnancy 
  9. why is saffron eaten during pregnancy, why do pregnant women eat saffron, pregnancy mahila jaafran kyun khaati hai, saffron khaane se garbh me shishu ko kya fayde milte hain , ek din me kitna kesar khaaye garbhavastha me
  10. leg cramps ke liye kesar doodh kaise banaye, pairon me akdan ke liye kesar doodh

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *