ग्रहण के दिन गर्भवती को क्या करना चाहिए और क्या नहीं | Eclipse And Pregnancy Care

Share for who you care

ग्रहण के दिन गर्भवती को क्या करना चाहिए

अगर आपके देश में ग्रहण देखा जाएगा तो आपको यह उपाय जरूर करने चाहिए

गर्भावस्था में ग्रहण के उपाय

  • घर के अंदर ऐसे स्थान पर रहें जहां ग्रहण की किरणें या प्रकाश न हो। खिड़कियां और दरवाजे बंद रखें और पर्दे खींचे हुए रखें।
  • अगर आप आमतौर पर रात का खाना देर से खाते हैं तो कम से कम अपना रात का खाना थोड़ा जल्दी यानी 5 मई को रात 8:30 बजे तक कर लें।
    बचे हुए खाने में और पानी में भी तुलसी के पत्ते डाल दें। यदि आपको रात में भूख लगती है तो ग्रहण काल से पहले जिन चीजों में तुलसी के पत्ते डाले गए हैं उन्हें खाना/पीना सुरक्षित है।
  • ग्रहण के दौरान मंदिर बंद रहेंगे। देवी-देवताओं की मूर्तियों को स्पर्श भी न करें। अपने घर के मंदिर को भी ढक दें। ग्रहण में पूजा की अनुमति नहीं है। गर्भवती महिलाएं ग्रहण के दौरान मंत्र जाप कर सकती हैं लेकिन मंदिर में नहीं। मंत्र जाप गर्भवती महिलाओं के लिए शुभ फल देता है। चंद्र ग्रहण के दौरान आपको हनुमान चालीसा का पाठ अवश्य करना चाहिए, इसके अलावा यदि विष्णु सहस्त्र का पाठ किया जाए तो यह आपके लिए अत्यंत फलदायी होता है। इस दौरान आप आदित्य हृदय स्त्रोत, विष्णु अष्टाक्षरी मंत्र का जाप कर सकते हैं और पंचाक्षरी मंत्रों का जाप भी कर सकते हैं। चंद्र ग्रहण के दौरान ये मंत्र बहुत अच्छे फल देते हैं।
  • ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाओं को चाकू, कैंची, सुई, कील आदि नुकीली या नुकीली चीजों का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। इन नुकीली और नुकीली चीजों से दूर रहें।
  •  ग्रहण के दौरान सोना वर्जित माना गया है। आप आराम कर सकते हैं, आप लेट सकते हैं लेकिन ग्रहण के दौरान सोना नहीं चाहिए। जिन गर्भवती महिलाओं की गर्भावस्था थोड़ी जटिल है, वे इस दौरान सो सकती हैं, अन्यथा यदि आपकी गर्भावस्था स्वस्थ है तो आपको ग्रहण के दौरान नहीं सोना चाहिए। इस दौरान आप कुछ धार्मिक पुस्तकें पढ़ सकते हैं, संगीत सुन सकते हैं या कोई अच्छी फिल्म देख सकते हैं आदि।
  • ग्रहण के दौरान एक नारियल अपने पास रखें। कहा जाता है कि यह ग्रहण की हानिकारक किरणों से आपकी रक्षा करता है। ग्रहण के बाद आप इसे किसी नदी में विसर्जित कर सकते हैं या जमीन के नीचे दबा सकते हैं।
  • ग्रहण के बाद गर्भवती महिलाओं को नहाना चाहिए और कपड़े बदलने चाहिए। अपने ऊपर और घर के आसपास गंगाजल छिड़कें। इससे सब कुछ शुद्ध हो जाएगा और ग्रहण के नकारात्मक प्रभाव समाप्त हो जाएंगे। अगर कुछ खाने की जरूरत हो तो अब आप ताजा खाना बनाकर खा सकते हैं।

आशा है कि यह लेख आपके लिए मददगार रहा होगा। गर्भावस्था पर इस तरह के अन्य लेखों के लिए कृपया garbhgyan.com को सब्सक्राइब करें। धन्यवाद।

Disclaimer: यहां दी गई जानकारी केवल अनुमानों और सूचनाओं पर आधारित है। यहां यह बताना जरूरी है कि garbhgyan.com किसी भी तरह की मान्यता, सूचना की पुष्टि नहीं करता है। किसी भी जानकारी या विश्वास पर कार्य करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ की सलाह लें।

lunar eclipse  2024 india timing and pregnancy precautions

Chandra Grahan 2024 – India Timings and Sutak Kaal, What Pregnant Women Should Do and Should not do.

Chandragrahan 2024 , chandra grahan 2024, surya grahan 2024, grahan  May, Solar Eclipse 2024, Lunar Eclipse 2024, Chandra grahan 2024, Lunar eclipse 2024, grahan2024, GRAHAN2024, 2024ग्रहण, 2024 ग्रहण, ग्रहण 2024, ग्रहण2024, grehan, grhan , grhn grahen, garhan, garhan 2024, garahan, garhn, grehen, chandrama, lunar eclipse, chandragrahan2024, chandragrahan, chandra grahan2024, grahan2024, 2024chandragrahan, 2024 chandragrahan, 2024 chandra grahan , 2024 grahan, pregnancy and lunar eclipse, chand, chand grahan, ग्रहण काल , sutak kaal, sutak samay, correct date and time  lunar eclipse, chandra grahan bharat me hai ya nahi  may 2024, mantra jaap,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *